khabar7 logo
business

सहारा इंडिया परिवार की मुश्किलें बढ़ीं, कंपनी एजेंट्स ने दर्ज कराया मुकदमा !!

by Khabar7 - 16-Jul-2021 | 17:22:29
सहारा इंडिया परिवार की मुश्किलें बढ़ीं, कंपनी एजेंट्स ने दर्ज कराया मुकदमा !!

16 जुलाई 2021,

हाईलाइट्स -

अंबाला स्थित कंपनी कार्यालय पर लटका ताला !

निवेशकों का करोड़ों रुपया कंपनी में जमा !

रियल स्टेट फॉर हाउसिंग बोर्ड कंपनी पर केस !

अंबाला !!

सहारा इंडिया परिवार की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ती दिख रही हैं. सहारा इंडिया के चेयरमैन सुब्रत रॉय, निदेशक ओपी श्रीवास्तव व अन्य प्रांतीय अधिकारियों पर कंपनी के ही एजेंटों ने अंबाला कैंट सदर थाना में धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है. अंबाला स्थित कंपनी कार्यालय पर फिलहाल ताला लटका हुआ है|

15 हजार निवेशकों का करोड़ों रुपये फंसा !

शिकायतकर्ता का दावा है कि जिले में करीब 15 हजार निवेशकों का करोड़ों रुपये फंसा हुआ है. अंबाला स्थित कार्यालय में रोजाना लोग अपने रुपये की आस में आते हैं, लेकिन भुगतान नहीं हो रहा है. इसके इलावा एक अन्य शिकायतकर्ता ने बताया कि वे सभी सहारा इंडिया में बीते 15 साल से बतौर एजेंट का काम करते हैं. उन्होंने निवेशकों का करोड़ों रुपये कंपनी में जमा कराया है. इनका मैच्योरिटी पीरियड पूरा हो चुका है|

बीते 2 साल से निवेशकों के रुपये नहीं दिए जा रहे हैं. कंपनी से कई बार संपर्क किया, लेकिन रुपया नहीं मिला. एजेंटों का दावा है कि रियल स्टेट फॉर हाउसिंग बोर्ड कंपनी पर ही केस है। इन दो कंपनियों में उनके निवेशकों का कोई भी पैसा जमा नहीं है|

अंबाला कैंट सदर थाना पुलिस ने कबीर नगर निवासी संजय कुमार की शिकायत पर सहारा इंडिया के चेयरमैन सुब्रत राय निदेशक, ओपी श्रीवास्तव, क्षेत्रीय प्रबंधक प्रशांत कुमार वर्मा ,एरिया मैनेजर अतीक अहमद तथा रीजनल मैनेजर संजय त्यागी पर केस दर्ज किया है. शिकायतकर्ता का दावा है कि जिले में करीब 15000 निवेशक हैं, जिनके करोड़ों रुपए बनते हैं. संजय के अलावा संदीप कुमार, रीमा गुप्ता, अंकित मित्तल, प्रवीण गौड़ ,बबीता, सुमन ,अजय गुप्ता, पिंकी गुप्ता ने संयुक्त रूप से शिकायत की है|
 
निवेशक एजेंटों को धमका रहे !

शिकायतकर्ता एजेंट्स ने बताया कि वे सभी सहारा इंडिया में वर्षों से बतौर अर्जेंट काम करते हैं. उन्होंने निवेशकों का करोड़ों रुपए कंपनी में जमा कराया है. कंपनी से कई बार संपर्क किया, लेकिन रुपया नहीं लौटाया, सभी को बोला जा रहा है कि कंपनी पर केस चल रहा है. वही एजेंटों का दावा है कि रियल स्टेट फॉर हाउसिंग बोर्ड कंपनी पर ही केस है. इन दो कंपनियों में उनके निवेशकों का कोई भी पैसा जमा नहीं है. आज लोग उन्हें धमकियां दे रहे हैं, लेकिन कंपनी उनकी बिल्कुल नहीं सुन रही, जिसके बाद उन्हें परेशान हो FIR दर्ज करवानी पड़ी।
 
एक निवेशक राज कुमार ने बताया कि आज फिर जब वह कंपनी ऑफिस पर अपना पैसा लेने पहुंचे तो वहां उन्हें ताला लटका हुआ मिला. निवेशक राजकुमार ने बताया कि उसने कंपनी में डेढ़ लाख रुपये जमा करवाया हुआ है. जब भी वह पैसा लेने ऑफिस आते थे तो कर्मचारी अधिकारियों के न होने का बहाना बनाते थे।

Share: