khabar7 logo
uttar-pradesh

बकरीद को लेकर CM योगी के सख्त आदेश- 50 से ज्यादा लोग इकठ्ठा होने पर होगी कार्रवाई !!

by Khabar7 - 19-Jul-2021 | 19:02:42
बकरीद को लेकर CM योगी के सख्त आदेश- 50 से ज्यादा लोग इकठ्ठा होने पर होगी कार्रवाई !!

19 जुलाई 2021,

हाईलाइट्स -

ईद के किसी भी आयोजन में 50 से ज्यादा लोग जमा न हों !

गोवंश/ऊंट अथवा अन्य प्रतिबंधित जानवर की कुर्बानी न हो !

21 जुलाई को मनाया जाएगा ईद का त्यौहार !  

लखनऊ !!

यूपी में बकरीद के मद्देनज़र CM योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त निर्देश जारी किए हैं. CM ने सख्त आदेश दिया है कि कोविड को देखते हुए ईद के किसी भी आयोजन में 50 से ज्यादा लोग जमा न हों. इसके आलावा ये सुनिश्चित किया जाए कि कहीं भी गोवंश/ऊंट अथवा अन्य प्रतिबंधित जानवर की कुर्बानी न हो. ऐसा होने पर संबंधित व्यक्ति या परिवार पर कानून के मुताबिक सख्त कार्रवाई की जाए. बता दें कि 21 जुलाई को ईद का त्यौहार मनाया जाना है|

CM ऑफिस की तरफ से जारी आदेश में साफ़ कहा गया है कि कुर्बानी सार्वजनिक स्थलों पर नहीं की जाएगी. इसके लिए चिन्हित स्थलों/निजी परिसरों का ही उपयोग किया जाएगा. इस दौरान साफ़-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए और प्रशासन के दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन हो. बता दें कि यूपी के कई मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कोरोना संक्रमण के कारण बकरीद की नमाज मोहल्ले की मस्जिदों में ही अदा करने की अपील की है. इसके अलावा लगातार दूसरे साल बकरीद ऊंटों की कुर्बानी नहीं की जाएगी, सरकार ने इस पर प्रतिबंध लगा दिया है|

मुस्लिम धर्मगुरुओं की अपील !

शिया जामा मस्जिद के प्रवक्ता हाजी फरमान हैदर ने कहा कि बकरीद को देखते हुए सभी से अपील है कि वह कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें. खुली जगह पर कुर्बानी करने की बजाय बंद जगह पर करें. उन्होंने बताया, साफ-सफाई का भी ख्याल रखें और मस्जिदों में भीड़-भाड़ न करें, अपने मोहल्ले की मस्जिदों में ही नमाज पढ़ें|

उधर कैराना में जामा मस्जिद के खतीब मौलाना ताहिर हसन ने ईद-उल-अजहा के त्योहार के मद्देनजर मुस्लिम समाज से अपील की है. उन्होंने वीडियो जारी कर कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए इस वर्ष भी ईद-उल-अजहा की नमाज ईदगाह में नहीं होगी. मस्जिदों में नमाज अदा की जाएगी. उन्होंने अपील की कि सभी अपनी-अपनी मस्जिदों में गाइडलाइन का पालन करते हुए नमाज अदा करें !

21 जुलाई को है ईद !

ईद उल अजहा यानी बकरीद इस्लाम धर्म का दूसरा सबसे बड़ा त्योहार है. बकरीद इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार 12वें महीने की 10 तारीख को मनाया जाता है. बकरीद का त्योहार रमजान का महीने खत्म होने के 70 दिन के बाद मनाया जाता है. इस दिन नमाज पढ़ने के बाद कुर्बानी दी जाती है. भारत में इस बार दिल्ली स्थित जामा मस्जिद के नायब शाही इमाम सैयद शाबान बुखारी ने ईद-उल-अजहा ( बकरीद) 21 जुलाई को मनाने की घोषणा की है|

Share: