khabar7 logo
uttar-pradesh

आगरा के हॉस्पिटल में जानबूझकर ऑक्सीजन सप्लाई बंद करने का संदिग्ध मामला- वीडियो वायरल, 5 मिनट में निपट गए 22 मरीज !!

by Khabar7 - 08-Jun-2021 | 15:53:29
आगरा के हॉस्पिटल में जानबूझकर ऑक्सीजन सप्लाई बंद करने का संदिग्ध मामला- वीडियो वायरल, 5 मिनट में निपट गए 22 मरीज !!

08 जून 2021,

हाईलाइट्स -

22 लोगों की हत्या करने का एक मामला सामने आया !

प्रबंधन ने अपनी सिरदर्दी कम करने के लिए रोकी ऑक्सीजन !

आगरा के पारस हॉस्पिटल का है वायरल वीडियो !

आगरा !!

ऑक्सीजन की किल्लत के दौरान आगरा के एक अस्पताल में कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर चल रही मारामारी के बीच ऑक्सीजन बंद करके 22 लोगों की हत्या करने का एक मामला सामने आया है। अस्पताल में ऑक्सीजन सपोर्ट पर मरीज ज्यादा थे और अस्पताल को ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं मिल पा रही थी, ऐसे में ऑक्सीजन का लोड और प्रबंधन ने अपनी सिरदर्दी कम करने के लिए 5 मिनट तक 22 मरीजों की ऑक्सीजन रोक दी।

नतीजा अस्पताल की परेशानियों के साथ-साथ उन 22 मरीजों की परेशानी भी हमेशा के लिए खत्म हो गई यह 22 मरीज 5 मिनट में ही इस दुनिया से चल बसे। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के अनुसार मामला आगरा के पारस हॉस्पिटल का है। सोशल मीडिया पर इस अस्पताल से जुड़ी इस मामले की क्लिप वायरल होने के बाद आज एक राष्ट्रीय हिंदी न्यूज़ चैनल ने भी इस क्लिप को दिखाया।

वीडियो वायरल की होगी जांच !

फिलहाल वीडियो वायरल होने के बाद लखनऊ तक हड़कंप मच गया है। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि, मामला संज्ञान में है और जो वीडियो वायरल हुआ है उसकी जांच की जाएगी। उसके बाद सही पाए जाने पर अस्पताल की जांच भी की जाएगी। इस जांच के नतीजे जो भी हो इस वीडियो क्लिप ने फिलहाल अस्पताल प्रबंधन के साथ-साथ प्राइवेट अस्पतालों की कार्यप्रणाली पर सवाल तो खड़े कर ही दिए हैं।

वायरल वीडियो के अनुसार 26 अप्रैल को सुबह 7:00 बजे जिस वक्त ऑक्सीजन की सप्लाई बंद की गई थी उस वक्त अस्पताल में ऐसे 96 मरीज थे जो ऑक्सीजन सपोर्ट पर थे। उधर मामले में आगरा के जिलाधिकारी पीएन सिंह का कहना है कि आंकड़ों से मामला सही प्रतीत नहीं हो रहा है क्योंकि किसी भी दिन अखबार में 22 मौतों की खबर नहीं मिली थी फिर भी जांच करवाई जाएगी।

22 निपटने के बाद 74 मरीज बचे !

इसमें से 22 की सप्लाई बंद करके उनका काम तमाम कर दिया गया वायरल वीडियो में स्टाफ संचालक को जानकारी दे रहा है कि 22 निपट गए उसके बाद 74 मरीज बचे।
वायरल वीडियो में अस्पताल के संचालक अरिंजय जैन स्टाफ से यह कह रहे है कि, मरीजों का लोड कम करो। ऑक्सीजन कहीं नहीं है। मुख्यमंत्री ऑक्सीजन मंगा कर नहीं दे सकते हैं। वीडियो वायरल होने के बाद अब इस मामले की जांच शुरू हो चुकी है।

Share: