khabar7 logo
business

अब वाहन की RC ट्रांसफर कराने के लिए नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर, आसानी से ऐसे होगा आपका काम !!

by Khabar7 - 15-Oct-2021 | 12:14:08
अब वाहन की RC ट्रांसफर कराने के लिए नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर, आसानी से ऐसे होगा आपका काम !!

15 अक्टूबर 2021,

हाईलाइट्स -

वाहन की बिक्री के 14 दिन के बाद RC ट्रांसफर कराना अनिवार्य !

30 दिन में दिए पते पर स्मार्ट कार्ड के रूप में भेजी जाती है RC !

यूजर के मोबाइल नंबर पर आता है ओटीपी !

नई दिल्ली !!

पुराने वाहन की खरीदारी या बिकवाली करते समय अक्सर उसके रजिस्ट्रेशन को ट्रांसफर करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. बता दें कि सेकेंड हैंड वाहन की खरीदारी के बाद उस वाहन की RC को अपने नाम पर ट्रांसफर कराना पड़ता है. दरअसल, जब तक उस वाहन की ओनरशिप आपके नाम पर नहीं हो जाती है तब तक कानूनी तौर पर आप उस वाहन के मालिक नहीं होते हैं। आज हम आपको RC ट्रांसफर कराने का एक आसान तरीका बता रहे है, जिससे किसी भी व्यक्ति को (RTO) संभागीय परिवहन कार्यालय में जाकर प्रक्रिया को पूरा करना होगा और डॉक्यूमेंट और फीस जमा करनी होगी।

इस प्रक्रिया के बाद बताई गई तारीख पर जाकर स्टेट्स को चेक करना होगा। आपको बता दें कि, नियमानुसार  किसी भी वाहन की बिक्री के 14 दिन के बाद उस वाहन की RC का ट्रांसफर कराना अनिवार्य है। आरसी 30 दिन के भीतर ट्रांसफर होकर दिए गए पते पर स्मार्ट कार्ड के रूप में भेज दी जाती है. एक राज्य से दूसरे राज्य में वाहन के ट्रांसफर होने पर फॉर्म 28 का उपयोग किया जाता है।

RC ट्रांसफर कराने का ऑनलाइन तरीका !

वाहन रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर करने के लिए सबसे पहले सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की वेबसाइट https://parivahan.gov.in/parivahan/ पर जाना होगा। इस प्रक्रिया के बाद यूजर को नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि जानकारी देकर अकाउंट बनाना होगा। अकाउंट बनने के बाद यूजर को Online Service पर क्लिक करना होगा। उसके बाद Vehicle Releted service पर क्लिक करना होगा। इस प्रक्रिया के बाद एक एप्लिकेशन फॉर्म खुल जाएगा वहां पर वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर, चेसिस नंबर डालकर OTP बनाना होगा।

यूजर के मोबाइल नंबर पर यह ओटीपी आएगा. OTP डालने के बाद एक नया पेज खुल जाएगा और यहां पर Transfer of Ownership पर क्लिक करना होगा. उसके बाद यहां पर सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा. सबमिट करने के बाद एक नया फॉर्म खुलेगा. वहां पर यूजर को रजिस्ट्रेशन और वाहन की जानकारी देनी होगी।

इस प्रक्रिया के बाद फॉर्म को सबमिट करना होगा। इसके बाद RTO ऑफिस से अप्वाइंटमेंट की तारीख लेनी होगी. इसके बाद संबंधित डॉक्यूमेंट लेकर RTO ऑफिस में लेकर जाना होगा. साथ ही फीस भी जमा करनी होगी. RTO से कुछ फॉर्म दिए जाते हैं. इन फॉर्म पर वाहन लेने वाले को हस्ताक्षर करना होता है और उसे RTO में जमा करना होता है. इस प्रक्रिया के बाद गाड़ी खरीदने वाले के नाम पर RC ट्रांसफर कर दी जाती है।

Share: