khabar7 logo
khabar-seven

बिहार चुनाव : गलत साबित हुआ राजद का A To Z का नारा, मुस्लिम और यादवो पर ही ज्यादा भरोसा !!

by Khabar7 - 07-Oct-2020 | 18:19:28
बिहार चुनाव : गलत साबित हुआ राजद का A To Z का नारा, मुस्लिम और यादवो पर ही ज्यादा भरोसा !!

07 अक्टूबर 2020,

हाईलाइट्स -

टिकट बंटवारे में पुरानी लकीर पर चलते नजर आए तेजस्वी !

एक बार फिर से MY समीकरण का बोलबाला !

तेजस्वी की कथनी और करनी में दिख रहा अंतर !

खबर-7 ब्यूरो पटना से.....श्रवण राज !!
 
तेजस्वी यादव ने भले ही RJD को लालू युग से आगे बढ़ाते हुए राष्ट्रीय जनता दल को सभी वर्गों की पार्टी बताया हो, MY समीकरण को खारिज करते हुए नए और समावेशी समीकरण के रास्ते पर चलने का ऐलान किया हो. लेकिन टिकट बंटवारे में तेजस्वी फिर वही पुरानी लकीर पर चलते नजर आए। एक बार फिर से MY समीकरण का बोलबाला दिख रहा है, RJD के अंदर मुस्लिम और यादव प्रत्याशियों का शुरू से ही बोलबाला रहा है। इस बार तेजस्वी यादव ने सभी वर्गों को उचित प्रतिनिधित्व देने का ऐलान किया था। लेकिन RJD से अभी जितने उम्मीदवारों की घोषणा की गई है उसे देखकर ऐसा प्रतीत नहीं होता कि RJD किसी नए रास्ते पर चली है, तेजस्वी की कथनी और करनी में साफ अंतर दिखाई दे रहा है।

इस चुनाव में RJD ने अभी तक जितने उम्मीदवारों को सिंबल दिया है, उनमें 19 यादवो और 2 मुस्लिमो को पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है, हालांकि टिकट बंटवारे में राजपूत ब्राह्मण भूमिहार और वैश्य समाज को भी हिस्सेदारी मिली है, लेकिन यह संख्या बेहद कम है। पहले चरण की जिन 71 सीटों पर चुनाव होना है वहां पहले से RJD के पास 41 सीटें हैं. RJD ने 8 दलितों और 4 सवर्णों को भी उम्मीदवार बनाया है। 

पहले चरण में 10 फ़ीसदी सवर्णों को टिकट !

तेजस्वी यादव ने यह वादा किया था कि वह सवर्णों को हिस्सेदारी देंगे और उन्होंने पहले चरण में 10 फ़ीसदी सवर्णों को टिकट दिया है। RJD की तरफ से मोकामा के निर्दलीय विधायक अनंत सिंह भी चुनाव लड़ेंगे। पार्टी ने अनुसूचित जाति के एक विधायक को भी सिंबल दिया है, RJD की तरफ से जिन 42 सीटों पर सिंबल जारी किए गए हैं, उनमें 19 यादव, 8 SC, 4 सवर्ण 3 अति पिछड़ा वर्ग से, 2 वैश्य, 2 कुशवाहा, 3 मुसलमान और एक ST उम्मीदवार को मैदान में उतारा गया है।

इस प्रकार आप देख सकते हैं कि इन चुनावों में भी राष्ट्रीय जनता दाल से अन्य वर्गों को प्रतिनिधित्व तो मिला है, लेकिन अभी भी  यादव उम्मीदवारों पर अधिक भरोसा जताया गया है।

Share: