khabar7 logo
west-bengal

कोयला तस्करी मामला : SC पहुंची ममता सरकार, बोलीं- CBI को जांच का अधिकार नहीं !!

by Khabar7 - 23-Feb-2021 | 18:32:06
कोयला तस्करी मामला : SC पहुंची ममता सरकार, बोलीं- CBI को जांच का अधिकार नहीं !!

23 फरवरी 2021,

हाईलाइट्स -

सुप्रीम कोर्ट ने मामले पर सुनवाई को दी मंजूरी !

मुख्य आरोपी अनूप माझी को राहत से इनकार !

ममता सरकार CBI की जांच के खिलाफ !

नई दिल्ली !!

कोयला के अवैध खनन मामले की CBI की जांच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी, उनकी पत्नी और उनकी साली तक पहुंची तो इसकी गूंज सुप्रीम कोर्ट भी पहुंच गई है. कोयला खनन घोटाले के मुख्य अभियुक्त अनूप माझी की अपील पर राज्य सरकार की दलील ये है कि CBI को तो राज्य के इस मामले की जांच का अधिकार ही नहीं है|

पश्चिम बंगाल सरकार, अवैध कोयला खनन की CBI द्वारा की जा रही जांच पर सवाल उठाते हुए सुप्रीम कोर्ट पहुंची है. कोर्ट में हलफनामा देकर राज्य सरकार ने कहा है कि इस मामले में CBI की जांच उचित नहीं है. क्योंकि राज्य सरकार ने इसके लिए अपनी मंजूरी दो साल पहले ही वापस ले ली थी. लेकिन CBI अब तक जांच कर रही है|

सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करने को तैयार !

सुप्रीम कोर्ट इस अपील पर सुनवाई करने को तैयार हो गया है. जस्टिस धनंजय चंद्रचूड़ और जस्टिस एमआर शाह की पीठ इस वैधानिक मुद्दे पर सुनवाई करने को राजी तो हो गई है लेकिन कोर्ट ने CBI की ओर से दर्ज FIR में मुख्य अभियुक्त कारोबारी अनूप माझी को CBI के हाथों गिरफ्तारी या दंडात्मक कार्रवाई से बचाने का आदेश देने से इनकार कर दिया|

कोर्ट ने अनूप माझी की अपील पर CBI को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है और सुनवाई पहली मार्च तक मुल्तवी कर दी है. दरअसल CBI की ओर से दर्ज मुकदमे में राज्य में कोयले के अवैध खनन और उसकी ढुलाई में कई गड़बड़िया मिलीं हैं. इसमें ईस्टर्न कोलफील्ड, पूर्व रेलवे, CISF और माझी सहित कई लोगों, कम्पनियों और संस्थानों की साठगांठ पाई गई है|

राज्य में सिर पर हैं विधानसभा चुनाव !

CBI ने इसकी पड़ताल कर, पिछले साल नवंबर में FIR दर्ज की थी. इसी सिलसिले में CBI, माझी से होती हुई ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा और उनकी बहन तक पहुंच गई. CBI को जांच में इनके बैंक खाते में बड़ी और अघोषित रकम की जमा निकासी के दस्तावेज मिले हैं. राज्य में विधानसभा चुनाव भी सिर पर हैं और सत्तारूढ़ दल पर CBI जांच और छापों का दाग भी लग रहा है|

Share: